इयत्ता-प्रकृति

Tuesday, October 27, 2009

प्रदूषण और वृक्ष

भीषण पर्यावरण प्रदूषण
दिख रहा प्रत्यक्ष ।
चेतें, जागें, लें संकल्प
घर-घर लगायें वृक्ष । ।

मिटटी को बांधे रखती है
जड़ें वृक्ष की ऐसे ।
मुट्ठी में मिटटी को हम
पकड़े रहते जैसे । ।

इससे रुकता क्षरण धरा का
आती है मजबूती ।
चाहे दौडें मोटर-कारें
चाहे दौडें हाथी । ।

कार्बन-डाइऑक्साइड लेकर
करते पत्ते, वायु शुद्ध ।
देते प्राणवायु ओक्सिजन
करते हैं समृद्ध । ।
००००००००
राकेश 'सोहम'

Labels: